TDS क्या है? TDS कैसे भरें और TDS भरने के फ़ायदे क्या होते है?

What is TDS In Hindi: टीडीएस सरकार द्वारा लिए जाना वाला टैक्स होता है, जिससे की टैक्स की होनी वाली चोरी को रोका जा सके। इसके और भी बहुत सारे फायदे होते है जिससे की सरकार और जनता दोनों तो ही होता है। अगर आप टैक्स भरते है तो आपको पता होना चाहिए की टैक्स कैसे भरते हैं और टैक्स को कैसे निकाला जाता है।

Loading...

अगर आपको नहीं पता है कि टीडीएस क्या होता है और इसको कैसे भरा जाता है और टैक्स को कैसे निकालते है और इसको भरने के क्या फायदे होते हैं। तो चलिए फिर शुरू करते है टीडीएस का फुल फॉर्म क्या है और टीडीएस क्यों कटता है।

Loading...

टीडीएस क्या होता है (TDS In Hindi)

टीडीएस वो होता है जो की किसी भी व्यक्ति को मिलने वाली इनकम से काटकर बची हुई इनकम को सरकार द्वारा टैक्स के रूप में इनकम जो काटी जाती है उसे टीडीएस कहा जाता है। यह राशि TDS के रूप में काटने के बाद ये राशि सरकार के पास जमा हो जाती है।

सरकार टैक्स दो तरह के लेती है पहला तो डायरेक्ट टैक्स और दूसरा तो इनडायरेक्ट टैक्स होता है। इसको प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष टैक्स भी कहा जाता है।

इसके बारे में यहाँ पढ़े: जिओ ग्लास क्या है और भारत में इसकी कीमत कितनी है?

टीडीएस इनकम टैक्स का ही एक रूप होता है। टीडीएस कई तरह के इनकम सोर्स पर काटा जाता है, जैसे किसी भी इन्वेस्टमेंट पर मिलने वाले इंटरेस्ट और कमिशन के रूप में दिए जाने वाले अमाउंट के रूप में भी दिया जाता है।

टीडीएस का फुल फॉर्म क्या होता है (TDS Full Form In Hindi)

टीडीएस का फुल फॉर्म “Tax Deducted At Source” होता है। ये TDS आयकर के द्वारा इनकम टैक्स जमा करने का एक तरीका होता है। इसमें अलग अलग तरह से पेमेंट के लिए इनकम टैक्स कानून में अलग अलग तरह की टीडीएस रेट्स होती है।

टीडीएस के फायदे क्या है (Benefits Of TDS)

अब तो आपको ये पता चल ही गया होगा की टीडीएस को किन सोर्सेज पर काटा जाता है और टीडीएस क्या होता है। तो चलिए अब जानते है की टीडीएस के क्या फायदे होते है:

  • अगर आप टैक्स भरते है तो इससे देश का विकास होता है। आपके टैक्स के भरने से जो पैसा सरकार के पास आता है वो देश के विकास के रूप में इस्तेमाल होता है।
  • टैक्स भरने का सबसे बड़ा फायदा टैक्स की चोरी को रोकना है। इससे जिन भी लोगो की इनकम ज्यादा होती है जिससे वह टैक्स की चोरी नहीं कर पाएंगे।
  • टैक्स को भरने से सरकार की अच्छी इनकम हो जाती है, जिससे सरकार का खर्च और व्यवस्था को सही तरह से पूरी कर पाती है।
  • TDS को सिर्फ नौकरी पेशा लोग ही नहीं भर सकते है, टीडीएस को जो लोग भी किसी भी प्रकार की इनकम करते है वो टैक्स को भर सकते है, जिससे की देश का विकास हो सके।

इससे यही सब फायदे होते है जिससे की TDS को भरने से सरकार और आम जनता दोनों के लिए होता है।

टीडीएस कैसे भरें (TDS कैसे जमा करें)

अगर आप भी टीडीएस भरना चाहते है लेकिन अगर आपको पता नहीं है की टीडीएस कैसे भरा जाता है तो आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से ये बताएंगे की टीडीएस को कैसे भरा जाता है।

टीडीएस को ऑनलाइन भरने के लिए कुछ स्टेप्स को नीचे दिया गया है जिसकी मदद से आप टीडीएस को भर सकते है।

Loading...
  • सबसे पहले आपको NSDL की वेबसाइट पर जाना है।
  • उसके बाद आपको यहाँ पर TDS Challan No./ Itns 281 सेलेक्ट करना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म ओपन हो जायेगा जिसको आपको सही से भरना है।
  • अगर आपको किसी कंपनी का चालान भरना है तो Company Deductees को Select करना है।
  • इसके बाद आपको ऑप्शन में Tan Number Enter करे और Assessment Year Enter करने के लिए आपको Payment करना है।
  • इसके बाद आपको इसमें बेसिक डिटेल्स को भरना है।
  • बेसिक डिटेल्स: अपना पूरा नाम लिखे जो पैन कार्ड में लिखा है।
  • उसके बाद आपको इसमें अपना एड्रेस, सिटी, पिनकोड और लोकैलिटी को भरें।
  • उसके बाद इसमें अपनी E-mail Id और मोबाइल नंबर लिखें।

इसके बाद इसमें Type of Payment को सेलेक्ट करना है, इसके बाद आपको जो भी टैक्स भरना है उसको सेलेक्ट करें।

  • Select Net Banking
  • Select Account
  • Enter The Amount

इस तरह से स्टेप्स को फॉलो करके आप अपना टीडीएस भर सकते है अब आप इस स्टेप्स को फॉलो करके टीडीएस भर सकेंगे।

टीडीएस कैसे काटा जाता है? (TDS Kaise Kaata Jaata Hai)

तो चलिए अब जानते है की टीडीएस कैसे काटा जाता है यदि आपका भी टीडीएस काटा जाता है तो आइये जानते है की किस प्रकार से टीडीएस काटा जाता है।

जो भी कंपनी टीडीएस काटती है उसको deductor कहा जाता है तथा जिसका टीडीएस काटा जाता है उसे Deductee कहा जाता है। टीडीएस को बहुत से पेमेंट के तौर पर काटा जाता है जैसे की: इंटरेस्ट, सैलरी, डिविडेंड, कमीशन, रेंट आदि के रूप में होता है। एम्प्लायर के द्वारा अपने एम्प्लाइज को जो सैलरी दी जाती है उस पर टीडीएस काटा जाता है।

इसमें जिसकी इनकम से टीडीएस काटा जाता है उसको टीडीएस सर्टिफिकेट मिलने का पूरा अधिकार होता है की वो अपना टीडीएस सर्टिफिकेट ले सके।

अगर आप यह जानना चाहते है की आपका TDS कटा है कि नहीं कटा है तो आप नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो कर सकते है।

TDS कैसे चेक करें?

मैं आज आपको ये बताने जा रहा हूँ कि टीडीएस कैसे चेक करते है की टीडीएस कितना कटा है तो चलिए फिर जानते है की कैसे चेक करेंगे।

  • सबसे पहले आपको Incometaxindiaefiling की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना पड़ेगा।
  • इसके बाद आपको Register Yourself के ऑप्शन पर क्लिक करना पड़ेगा.
  • इसके बाद आपको इसमें यूजर टाइप सेलेक्ट करना है।
  • इसके पश्चात आपको अपने पैन कार्ड में दी गयी डिटेल्स के आधार पर सारी जानकारी देनी है। इसके बाद इसमें आपको अपना पासवर्ड Generate करना है।
  • इसके बाद आपको इसमें User Id और पासवर्ड के द्वारा इसको लॉगिन करना है।
  • इसके बाद आपको Click View Tax Credit Statement के ऑप्शन पर क्लिक करना पड़ेगा।
  • बस इसके बाद आपको इसपर क्लिक करने के बाद आपको सारी जानकारी मिल जाएगी।

आज आपने इस पोस्ट से क्या सीखा?

आज मैंने आपको इस पोस्ट के माध्यम से ये बताने की कोशिश की है TDS क्या है? और TDS कैसे भरें और TDS भरने के फ़ायदे क्या होते है। मुझे उम्मीद है की आपको ये पोस्ट पसंद आया होगा अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आया हो तो आप इस आर्टिकल को सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर शेयर कर सकते है। अगर आपको इस पोस्ट से रिलेटेड आपके मन में कोई सवाल हो तो आप हमें नीचे कमेंट सेक्शन में बता सकते है। अगर आप हमारी वेबसाइट में आर्टिकल लिखना चाहते है तो भी आप हमें नीचे कमेंट सेक्शन में बता सकते हैं

Leave a Comment