पेट्रोल की बढ़ती कीमत से जनता हुई परेशान विपक्ष ने जम के कसा तंज

पेट्रोल हमारे दिन-प्रतिदिन के जीवन का एक अनिवार्य हिस्सा बन गया है, और हम इसके बिना अपने जीवन की कल्पना नहीं कर सकते। लेकिन पेट्रोल की कीमतें आसमान छू रही हैं, और यह अंततः प्रत्येक और हर चीज को प्रभावित करने वाली है जिसका उपयोग हम अपने दैनिक जीवन में करते हैं।

Loading...

पेट्रोल की कीमत भारत में कैसे तय की जाती है

Loading...

भारत में पेट्रोल का दाम प्रतिदिन के आधार पर तय किया जाता है। कीमत हर दिन सुबह 06:00 बजे तय किया जाता है। यह सुनिश्चित करता है कि वैश्विक तेल की कीमतों में एक मिनट की भी भिन्नता ईंधन उपयोगकर्ताओं और डीलरों को प्रेषित की जा सकती है। इनमें अमेरिकी डॉलर की विनिमय दर, कच्चे तेल की कीमत, वैश्विक संकेत, ईंधन की मांग और इतने पर रुपये शामिल हैं। जब अंतर्राष्ट्रीय कच्चे तेल की कीमतें बढ़ती हैं, तो भारत में कीमतें अधिक हो जाती हैं। ईंधन की कीमत में उत्पाद शुल्क, मूल्य वर्धित कर (वैट) और डीलर कमीशन शामिल हैं। वैट एक राज्य से दूसरे राज्य में भिन्न होता है। एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन और वैट को जोड़ने के बाद, पेट्रोल की खुदरा बिक्री मूल्य लगभग दोगुनी हो जाती है। विभिन्न कारक ईंधन की कीमत को प्रभावित करते हैं।

पेट्रोल के कीमत बढ़ने से सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाले कुछ सेक्टर्स

तीन साल के भीतर पेट्रोल की कीमत 10 गुना बढ़ गई है और अभी भी बढ़ रही है। विनिर्माण और परिवहन के लिए प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से सभी प्रमुख क्षेत्रों जैसे परिवहन, वस्त्र, ऑटो, एफएमसीजी आदि को प्रभावित करता है। यह दैनिक आवश्यक वस्तुओं की कीमतों को प्रभावित करता है जिन्हें दैनिक आधार पर ले जाया जाता है। उच्च मुद्रास्फीति स्तर के कारण बैंकिंग क्षेत्र को भी नुकसान होने की उम्मीद है।

पेट्रोल डीजल के  मूल्य में वृद्धि से खाद्य मूल्य में भी वृद्धि होगी। इसका गरीब लोगों पर अधिक गंभीर प्रभाव पड़ेगा क्योंकि गरीब परिवार अपनी आय का आधा से अधिक हिस्सा भोजन पर और ईंधन पर खर्च करते हैं।

भारत के विभिन्न राज्यों में वर्तमान पेट्रोल के दाम

क्रम संख्या राज्य कीमत
1 आंध्र प्रदेश 87.24
2 असम 87.69
3 बिहार 93.48
4 छत्तीसगढ़ 89.62
5 गुजरात 88.20
6 हरयाणा 89.25
7 हिमांचल प्रदेश 89.11
8 जम्मू एंड कश्मीर 92.67
9 झारखण्ड 88.52
10 कर्नाटका 93.24
11 केरला 91.64
12 मध्य प्रदेश 99.25
13 महाराष्ट्रा 97.75
14 ओडिशा 91.90
15 पंजाब 90.21
16 राजस्थान 97.72
17 तमिल नाडु 93.59
18 तेलंगना 94.79
19 उत्तर प्रदेश 89.23
20 उत्तराखंड 89.89
21 वेस्ट बंगाल 91.35
22 NCT Of Delhi 91.17

भारत पेट्रोल कहाँ- कहाँ  से आयात करता है

भारत दुनिया का तीसरा सबसे ज्यादा तेल इंधन का उपयोग करने वाला देश है, यहाँ पर इंधन की जरूरते बिना आयात के पूरा करना असंभव है| भारत 80 % कच्चे तेल का आयात और 40 % प्राकृतिक गैस का आयात करता है अपने जरूरतों को पूरा करने के लिए. इसमें 17.4 % सऊदी अरबिया से 16% इराक से 9.6 % UAE से 9 ईरान से.

कुछ राजनितिक प्रवाक्ताओ के द्वारा पेट्रोल के दाम लगातार बढ़ने पर प्रतिक्रिया

Loading...

हाल ही में किसान आन्दोलन को लेकर सुर्खियों में रहने वाले हरियाणा के खाप पंचायत ने कहा है की वो सभी सरकारी सहकारी समितियों को दूध 100 रुपये लीटर के हिसाब से बेचेंगे.

मीडिया से बात करते हुए, एक पंचायत प्रवक्ता ने कहा, “हमने 100 / लीटर की कीमत पर दूध देने का फैसला किया है। हम डेयरी किसानों से सरकारी सहकारी समितियों में उसी कीमत पर दूध बेचने का आग्रह करते हैं।”

राहुल गाँधी ने अपने अंदाज़ में सरकार पे तंज कसा है उन्होंने कहा है की “ आम जनता का जेब खाली करके सरकार मित्रो के झोली भरने का काम कर रही है| पेट्रोल डलाते समय अगर आपकी नज़र तेजी से बढ़ते हुए मीटर पे पड़े तो आप इसे समझिये की कच्चे तेल की कीमत बाज़ार में काफी कम हुई है|

petrol imaje

दूसरी तरफ भाकपा युवा नेता कन्हैया कुमार ने इसपर चुटकी लेते हुआ कहा है की “ लोकल ट्रेन का किराया दोगुना करते हुए सरकार बहादुर ने कहा है की लोग बिना मतलब यात्रा न करे इसीलिए ऐसा किया गया है. हे प्रभु साथ में ये भी बता देते की रसोई गैस की कीमत इसीलिए बढ़ाई गयी है ताकि लोग नाली के गैस से चाय बना सके ”

वही ममता बनर्जी ( TMC) वर्तमान मुख्य मंत्री पश्चिम बंगाल ने इसका विरोध कुछ अपने ही अंदाज़ में किया उन्होंने इलेक्ट्रिक स्कूटी चला के इसका विरोध प्रदर्सन किया हालांकि BJP ने इसपे तंज कसते हुए कहा की इस से पर्यावरण को काफी फ़ायदा पहुचेगा अगर दीदी चुनाव प्रचार में भी इलेक्ट्रिक स्कूटी का ही इस्तेमाल करती है तो.

राजनितिक पार्टियों के तंजकसने के बाद RBI के गवर्नर शक्तिकंता दास ने भी विपक्ष का साथ देते हुए सरकार से अपील की है की वो Indirect Tax को कम करके जनता को कुछ राहत प्रदान करे.

निष्कर्ष

Loading...

गौरतलब है की भारत में पेट्रोल की कीमत कुछ ही दिनों में 100 रूपए को पार करने वाली है, इसपे सरकार का ध्यान देना अतीआवश्यक है , और इसे कम करके माध्यमवर्ग को राहत देनी चाहिए|

Leave a Comment